TORRENT KYA HAI? WHAT IS TORRENT |

TORRENT KYA HAI? और यह कैसे काम करता है इसके अलावा इसका इस्तेमाल कहां पर किया जाता है इसकी संपूर्ण जानकारी हम इस पोस्ट के माध्यम से आप सभी के साथ में साझा करने वाले हैं |

बहुत से लोग इंटरनेट के माध्यम से कोई भी मूवी को डाउनलोड करने के लिए टोरेंट का इस्तेमाल करते हैं लेकिन ऐसे बहुत से लोग हैं जिनके बारे में कोई जानकारी नहीं होती है जिससे कि वह मूवी को डाउनलोड कर सके और ऐसे में अगर आप भी नहीं जानते तो आपको जरूर हमारी इस पोस्ट को ध्यान से पढ़ने की जरूरत है |

क्योंकि बहुत ही कम लोगों को इस टोरेंट सॉफ्टवेयर के बारे में कोई जानकारी है क्योंकि इसके माध्यम से काफी आसानी से आप कोई भी सॉफ्टवेयर को बिना पैसे खर्च किए बिल्कुल मुफ्त में डाउनलोड कर सकते हैं |

हम अच्छी तरीके से जानते हैं कि  किसी भी सॉफ्टवेयर को खरीदना चाहते हैं ऐसे में आपको हजारों रुपए खर्च करने की जरूरत होती है लेकिन टोरेंट के इस्तेमाल से आप हजारों रुपए बचा सकते हैं और बिल्कुल मुफ्त में अपना मनपसंद सॉफ्टवेयर को डाउनलोड कर सकते हैं |

अगर आप इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं ऐसे में जरूर TORRENT के बारे में सुना ही होगा यह काफी ज्यादा लोकप्रिय सॉफ्टवेयर है और आज हम इसके बारे में पूरी जानकारी देंगे और इसकी विशेषताओं के बारे में भी सरल शब्दों में बताएंगे |

लेकिन यहां पर हम TORRENT KYA HAI? के विषय के ऊपर जानकारी देने से पहले यह भी बताना चाहते हैं कि इस प्रकार की और भी पोस्ट पढ़ना चाहते हैं तो हमारी वेबसाइट एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है जहां पर हमने बिल्कुल विस्तार से पोस्ट के माध्यम से जानकारियों को साझा किया है |

TORRENT KYA HAI?

इसे अगर सरल शब्दों में समझें तो यह एक प्रकार का सॉफ्टवेयर है जिसके माध्यम से आप को इंटरनेट से कोई भी बिल्कुल मुफ्त में डाउनलोड कर सकते हैं अगर आप कोई मूवी सॉफ्टवेयर डाउनलोड करना चाहते हैं ऐसे में TORRENT के माध्यम से आसानी से कर सकते हैं |

यहां पर हम बताना चाहेंगे कि TORRENT के माध्यम से कोई भी डाउनलोड करने की प्रक्रिया पूरी तरीके से अलग होती है क्योंकि जब भी आप TORRENT के माध्यम से कोई भी फाइल को डाउनलोड करते हैं तो वह किसी सरवर से नहीं करते बल्कि PEERS के माध्यम से करते हैं |

हम यहां पर बता दे कि PEERS का मतलब होता है कि किसके पास में किसी भी फाइल जो आप डाउनलोड करना चाहते हैं वह उपलब्ध होती है वैसे में उसकी ओरिजिनल जगह से डाउनलोड ना करके इस दूसरी जगह से उसी फाइल को डाउनलोड करते हैं |

इसीलिए हमें TORRENT के माध्यम से कोई भी सॉफ्टवेयर और मूवी को डाउनलोड करने के लिए पैसे देने की जरूरत नहीं होती है क्योंकि यह अपने खुद के स्वर में उन सभी फाइलों को रखता है जिससे कि आसानी से कोई भी डाउनलोड कर सकता है |

TORRENT के फायदे और नुकसान 

यहां पर हम बात करने वाले हैं कि टोरंट के फायदे क्या है और इसके क्या नुकसान हो सकते हैं अगर इसका इस्तेमाल करते हैं हम इन दोनों ही पहलुओं के बारे में नीचे सरल शब्दों में बताएंगे जिससे कि अगर आप इस सॉफ्टवेयर का उपयोग करना चाहते हैं ऐसे में आपको अच्छी जानकारी होनी चाहिए |

  • इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि आप तो बिल्कुल मुफ्त में कोई भी सॉफ्टवेयर और मूवी को डाउनलोड कर सकते हैं इसके विपरीत अगर टोरेंट सॉफ्टवेयर का उपयोग नहीं करते हैं ऐसे में हजारों रुपए खर्च करने पड़ सकते हैं |
  • टोरेंट सॉफ्टवेयर के माध्यम से आसानी से कोई भी सॉफ्टवेयर को इंटरनेट से डाउनलोड किया जा सकता है वही रिलीज के दिन ही मूवी को डाउनलोड करने की सुविधा मिल जाती है |
  • टोरेंट का उपयोग पूरी तरीके से भारत में प्रतिबंध किया गया है और कहा सरकार ने इस सॉफ्टवेयर को काफी पहले ही बंद कर दिया था |
  • इसके अलावा अगर टॉरेंट के माध्यम से कोई भी सॉफ्टवेयर डाउनलोड करते हैं वह सॉफ्टवेयर पूरी तरीके से सुरक्षित नहीं होते ऐसे में अपने कंप्यूटर में इस्तेमाल करते हैं तो शायद आपका कंप्यूटर हैक भी हो सकता है |

EBOOK KYA HAI? EBOOK कैसे लिखते है |

निष्कर्ष

इस पोस्ट के जरिए TORRENT KYA HAI? और यह कैसे कार्य करता है इसकी संपूर्ण जानकारी दी है इसके अलावा इसके फायदे और नुकसान के बारे में भी अच्छी और सरल शब्दों में जानकारी देने की पूरी कोशिश की है |

Leave a Comment