KYC KYA HAI? केवाईसी क्यों जरूरी है |

आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से काफी महत्वपूर्ण विषय के ऊपर जानकारी देने जा रहे हैं जहां पर हम KYC KYA HAI? और केवाईसी क्यों जरूरी है? इसके अलावा और भी कई महत्वपूर्ण विषय के ऊपर चर्चा करेंगे |

हमारी इस पोस्ट को ध्यान से पढ़ने पर आपको केवाईसी के बारे में संपूर्ण जानकारी मिल जाएगी और आज के समय में केवाईसी के बारे में अच्छी तरीके से जानना काफी ज्यादा आवश्यक है जिससे कि आप इंटरनेट पर और बेहतर तरीके से सुविधाओं का इस्तेमाल कर पाएंगे |

क्योंकि एक बात हम सभी जानते हैं कि इंटरनेट पर एक छोटी सी गलती से आसानी से कोई भी फ्रॉड कर सकता है खास करके बैंकिंग से संबंधित काफी ज्यादा फ्रॉड होते हैं इन सब को कम करने के लिए ही भारत सरकार ने केवाईसी को लागू किया है |

वही हम यह भी बताएंगे, की केवाईसी के माध्यम से कैसे इंटरनेट बैंकिंग से संबंधित फ्रॉड को कम करने में मदद मिलेगी इसलिए हमारी इस पोस्ट को शुरू से लेकर अंतिम तक ध्यान से पढ़िए जिससे कि आपको सभी सवालों के जवाब आसानी से मिल सके | 

इसके अलावा अगर आप इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं ऐसे में यह भी जरूर जाना चाहिए की केवाईसी को किस प्रकार से किया जाता है और केवाईसी करने के लिए कौन सी महत्वपूर्ण दस्तावेजों की जरूरत होती है | 

इसके साथ ही हम यह भी बताएंगे, कि केवाईसी कहां-कहां पर उपयोग में लिया जाता है और केवाईसी के माध्यम से कैसे आप इंटरनेट पर पूरी तरीके से सुरक्षित रह सकते हैं इसलिए इस पोस्ट को ध्यान से पढ़िए यहां पर हम बिल्कुल सरल शब्दों में जानकारी देंगे | 

Online Surakshit Kaise Rahe?

SMARTPHONE की SPEED कैसे बढ़ाये?

KYC KYA HAI?

केवाईसी की फुल फॉर्म (KNOW YOUR CUSTOMER) है आप इसकी फुल फॉर्म के माध्यम से ही जान सकते हैं कि केवाईसी का उपयोग कहां पर और किस लिए किया जाता है |

जिस प्रकार से इंटरनेट पर कुछ लोगों की तरफ से फ्रॉड किया जा रहा है उसे रोकने के लिए भारत सरकार ने सभी बैंकिंग और महत्वपूर्ण सर्विस का उपयोग करने के लिए केवाईसी को अनिवार्य कर दिया है |

इसका मतलब यह है कि अगर आप इंटरनेट बैंकिंग करना चाहते हैं उसके लिए सबसे पहले आपको केवाईसी करवाने की जरूरत होगी वही आप TRADING  से संबंधित एप्लीकेशन का इस्तेमाल करना चाहते हैं उसके लिए भी सबसे पहले केवाईसी करवानी होगी |

केवाईसी इसलिए इतनी ज्यादा महत्वपूर्ण है क्योंकि इंटरनेट पर किसी बैंक और फाइनेंस संस्था की इसका उपयोग करते हैं ऐसे में उन्हें नहीं पता होता है कि कौन उनका उपयोग कर रहा है इसलिए केवाईसी को सबसे पहले करवाया जाता है |

इसके माध्यम से काफी आसानी से बैंक वाले यह जान सकते हैं कि उनकी सर्विस का इस्तेमाल कौन कर रहा है क्योंकि जब भी आप केवाईसी को करवाते हैं ऐसे में वह आपकी सारी जानकारियों को प्राप्त कर लेते हैं |

जैसे की केवाईसी को करवाने के बाद में आपकी साड़ी दस्तावेजों को बैंक सबमिट कर लेता है और आपका फोटो इसके अलावा आपके फिंगरप्रिंट भी ले लेता है जिससे कि बैंक को आप की संपूर्ण जानकारी हो |

केवाईसी की जरूरत क्यों है?

चलिए जहां पर हम बात करने जा रहे हैं कि KYC KYA HAI? के बारे में पूरी जानकारी प्रदान की है अभी हम बात करने वाले हैं कि केवाईसी की जरूरत क्यों होती है और कैसे केवाईसी के माध्यम से इंटरनेट पर सुरक्षित तरीके से बैंकिंग से संबंधित सर्विस का उपयोग कर सकते हैं |

  • आज किसी भी बैंक की सर्विस का ऑनलाइन उपयोग करने के लिए सबसे पहले केवाईसी को करवाने की जरूरत होती है इसके बिना आप इंटरनेट बैंकिंग का भी उपयोग नहीं कर सकते हैं |
  • क्योंकि बिना केवाईसी के माध्यम से आप किसी भी प्रकार से  पैसों का लेनदेन करने वाली एप्लीकेशन का भी उपयोग नहीं कर पाएंगे और ना ही TRADING एप्लिकेशन का उपयोग कर सकते हैं |
  • उन सभी प्रकार की एप्लीकेशन जिसमें की पैसों का लेनदेन किया जाता है या फिर किसी कंपनी के शेयर को खरीदा जाता है उन सभी में सबसे पहले केवाईसी को अनिवार्य भारत सरकार की तरफ से कर दिया गया है |
  • अगर केवाईसी को नहीं करा जाए ऐसे में कोई भी आपके बैंक अकाउंट को ओपन कर सकता है या फिर कोई भी दूसरा अकाउंट का गलत तरीके से इस्तेमाल कर सकता है |

निष्कर्ष

हमने इस पोस्ट के माध्यम से KYC KYA HAI? केवाईसी क्यों जरूरी है केवाईसी के बारे में संपूर्ण जानकारी और को हमने इस पोस्ट के माध्यम से प्रदान किया है जिससे की उम्मीद है कि हमारी इस पोस्ट को पढ़ने के बारे में संपूर्ण तरीके से आपको जानकारी मिल गई होगी |

Leave a Comment