Cracked Software क्या है? (सॉफ्टवेयर क्रैकिंग)

आज हम इस पोस्ट के जरिए जानेंगे कि Cracked Software क्या होता है और क्यों आपको इसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए हम सभी जानते हैं कि सॉफ्टवेयर हमारे कंप्यूटर के लिए काफी ज्यादा महत्वपूर्ण होते हैं |

किसी भी कंप्यूटर को सही तरीके से कार्य करने के लिए अलग-अलग प्रकार के सॉफ्टवेयर की जरूरत होती है और हमें भी अगर कंप्यूटर में कुछ करना चाहते हैं उसके लिए अलग-अलग प्रकार के सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करने की जरूरत होती है |

जहां पर अगर आप आज के समय में अपने कंप्यूटर में हमारी इस पोस्ट को पढ़ रहे हैं तो उसके लिए भी आपको एक ब्राउज़र की जरूरत होती है वह भी एक प्रकार से सॉफ्टवेयर ही होता है और आप कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं तो आपको अच्छी तरीके से पता होगा कि सॉफ्टवेयर क्या होता है |

लेकिन क्या आपने कभी Cracked Software के बारे में सुना है यह भी एक प्रकार का सॉफ्टवेयर ही होता है लेकिन बहुत ही कम लोगों को पता होता है कि आखिर Cracked Software क्या है और इसका इस्तेमाल कहां पर किया जाता है |

हम यहां पर आपको संपूर्ण जानकारी देंगे कि Cracked Software क्या है और यह भी जानेंगे कि इसके फायदे और नुकसान क्या हो सकते हैं इसके अलावा अगर आप इस प्रकार के सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करना चाहते हैं किस प्रकार से कर सकते हैं इसकी संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे |

यहां पर इससे पहले कि हमने Cracked Software के विषय के ऊपर जानकारी को देना शुरू करें हम यह भी बताना चाहते हैं कि अगर आपको और भी इस प्रकार की किसी जानकारी की जरूरत है आप हमारी वेबसाइट पर उपलब्ध दूसरे टेक्नोलॉजी से संबंधित पोस्ट पढ़ सकते हैं |

Cracked Software क्या है?

हम यहां पर अगर क्रैकेड सॉफ्टवेयर के बारे में सरल तरीके से समझे तो हम बता दें कि अगर आपको कहीं हजारों का सामान बिल्कुल फ्री में मिल जाए उसे आपको जरूर लेना पसंद करेंगे | 

उसी प्रकार से जब किसी कंपनी के द्वारा कोई प्रीमियम सॉफ्टवेयर बनाया जाता है जिसे कि अगर आप इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आपको काफी ज्यादा पैसे खर्च करके उसका प्रीमियम वर्जन अपने कंप्यूटर में लेने की जरूरत होगी | 

लेकिन कुछ डेवलपर्स उस सॉफ्टवेयर के अंदर कोई बदलाव करके हजारों रुपए का सॉफ्टवेयर बिल्कुल फ्री में उपलब्ध करवा देते हैं उसे एक प्रकार से Cracked Software कहां जाता है इस प्रकार के सॉफ्टवेयर को Pirate Software भी कहते हैं |

यहां पर बता दे कि जो ओरिजिनल सॉफ्टवेयर होता है वह Cracked Software के मुकाबले काफी अलग होता है आपको क्रैकेड सॉफ्टवेयर में फीचर्स थोड़ी से कम देखने को मिल सकते हैं या फिर इसका इस्तेमाल करना सिक्योरिटी के लिए घातक हो सकता है | 

बहुत से लोग इंटरनेट पर इस प्रकार के सॉफ्टवेयर को अपने कंप्यूटर में डाउनलोड कर लेते हैं जिससे कि उनको उस सॉफ्टवेयर का प्रीमियम वर्जन लिखना नहीं पड़ता और काफी ज्यादा संभावना है कि आपने भी कभी अपने कंप्यूटर में इस प्रकार के सॉफ्टवेयर को जरुर डाउनलोड किया होगा | 

Jiomart Kya Hai? जिओ मार्ट पर आर्डर कैसे करें |

Cracked Software कहां से डाउनलोड करें?

यहां पर अभी हम बात करते हैं कि किस प्रकार से आप क्रैकेड सॉफ्टवेयर को डाउनलोड कर सकते हैं और किस वेबसाइट के माध्यम से सभी प्रकार के क्रैकेड सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करने की सुविधा दी गई है इसके बारे में हम अच्छी तरीके से जानकारी देने वाले हैं | 

हम बता दें कि इंटरनेट पर आपको बहुत सी ऐसी वेबसाइट मिल जाएगी, जहां से इस प्रकार के सॉफ्टवेयर को काफी आसानी से डाउनलोड किया जा सकता है हम कुछ लोकप्रिय वेबसाइट की नीचे सूची भी साझा कर रहे हैं | 

लेकिन इससे पहले कि आप क्रैकेड सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करना शुरू करें हम आपको इसके बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी भी देना चाहते हैं | 

जहां पर हम बता दे कि अगर आप इस प्रकार के सॉफ्टवेयर को अपने कंप्यूटर में इस्तेमाल करते हैं तो उससे सुरक्षा से संबंधित कुछ समस्या हो सकती है क्योंकि यह सॉफ्टवेयर ओरिजिनल कंपनी के द्वारा प्रदान किए गए सॉफ्टवेयर से पूरी तरीके से अलग होते हैं | 

जिसका मतलब यह है कि इसमें काफी ज्यादा बदलाव किए हुए होते हैं इस वजह से अगर इसका इस्तेमाल करते हैं तो शायद आप कंप्यूटर में वायरस या फिर और भी सुरक्षा से संबंधित काफी समस्या हो सकती है | 

इसलिए अगर आप क्रैकेड सॉफ्टवेयर का उपयोग करने जा रहे हैं तो आप अपनी जिम्मेदारी पर करें और हमारी सलाह मानें तो आप इस प्रकार के सॉफ्टवेयर को बिल्कुल भी अपने कंप्यूटर की किसी भी स्मार्ट में इंस्टॉल ना करें | 

ALL WEBSITE LIST
  • Giveaway Radar
  • SharewareOnSale
  • Giveawayoftheday
  • Topwaresale
  • Tickcoupon Giveaway
  • Techno360
  • Techtiplib
  • Download.hr
  • Mostiwant
  • Malwaretips

हम यहां पर आपको अच्छी तरीके से समझाने के लिए एक उदाहरण को भी सजा कर रहे हैं यहां पर हम बता Wondershare Filmora जो कि एक वीडियो एडिटिंग सॉफ्टवेयर है और यह काफी ज्यादा लोकप्रिय सॉफ्टवेयर में से एक है और अधिकांश लोग इसके माध्यम से ही वीडियो एडिटिंग करना पसंद करते हैं | 

अगर आप इसे इसकी अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर खरीदते हैं तो उसके लिए कम से कम 5 हजार रुपए खर्च करने की जरूरत होगी, वहीं अगर आप इतने ज्यादा पैसे खर्च नहीं करना चाहते हैं तो इसका क्रैकेड वर्जन भी इंस्टॉल कर सकते हैं जो कि आपको इंटरनेट पर काफी आसानी से बिल्कुल मुफ्त में मिल जाएगा | 

निष्कर्ष

हमने यहां पर Cracked Software क्या है? के विषय के ऊपर संपूर्ण जानकारी देने की कोशिश की है और हमने कुछ उदाहरण देकर भी बताया है कि क्रैकेड सॉफ्टवेयर का लोग किस प्रकार से इस्तेमाल करते हैं और कैसे इसकी वजह से वह कंपनी को हजारों रुपए का नुकसान करवाते हैं | 

MS DOS KYA HAI? WHAT IS MS DOS |

MotherBoard Kya Hai? और कैसे कार्य करता है

Leave a Comment